Romantic Love Shayari – Love Shayari has long been a favourite among lovers. Even today, people adore reading love poems.

Romantic Love Shayari – रोमांटिक लव शायरी

Bichhdi Hui Raahon Se Jo Gujre Hum Kabhi,
Har Mod Par Khoyi Hui Ek Yaad Mili Hai.
बिछड़ी हुई राहों से जो गुजरे हम कभी,
हर मोड़ पर खोई हुई एक याद मिली है।

Na Kar Zidd Apni Hadd Mein Reh Ai Dil,
Wo Bade Log Hain Marzi Se Yaad Karte Hain.
ना कर जिद अपनी हद में रह ए दिल,
वो बड़े लोग है मर्जी से याद करते है।


Love🥰Shayri

Love Shayri – Love Shayari has long been a romantic favourite. Even now, most people like reading love poems.

New Love Shayari – नई लव शायरी

Tu To Hans-Hans Kar Jee Raha Hai Juda Hokar Bhi,
Kaise Jee Paya Hoga Woh Jiski Zindagi Hai Tu.
तू तो हँस-हँस कर जी रहा है जुदा होकर भी,
कैसे जी पाया होगा वो, जिसकी जिंदगी है तू।

Na Jaane Kaun Sa Aansoo Mera Raaz Khol De,
Hum Is Khayal Se Najrein Jhukaye Baithhe Hain.
न जाने कौन सा आँसू मेरा राज़ खोल दे,
हम इस ख़्याल से नजरें झुकाए बैठे हैं।


Love☺️Thoughts

Love Thoughts – Love Shayari has long been a favourite among lovers. Even today, everyone appreciates reading love poems.

Love Thoughts in Hindi – लव थॉट्स इन हिंदी

Fir Aaj Aansuon Mein Nahayi Huyi Hai Raat,
Shayad Humari Tarah Hi Sataayi Huyi Hai Raat.
फिर आज आँसुओं में नहाई हुई है रात,
शायद हमारी तरह ही सताई हुई है रात।

ilaahi Khair Ho Uljhan Pe Uljhan Badti Jati Hai,
Na Mera Dum Na Unke Gesuon Ka Kham Nikalta Hai,
Qayamat Hi Na Aa Jaaye Jo Parde Se Nikal Aao,
Tumhare Munh Chhupane Mein To Ye Aalam Gujarta Hai.
इलाही खैर हो उलझन पे उलझन बढ़ती जाती है,
न मेरा दम न उनके गेसुओं का खम निकलता है।
क़यामत ही न हो जाये जो पर्दे से निकल आओ,
तुम्हारे मुँह छुपाने में तो ये आलम गुजरता है।


Best😇Shayari

Best Shayari – Lovers have traditionally favoured Love Shayari. Everyone enjoys reading love poems even today.

New Best Shayari – नई बेस्ट शायरी

Ye Mat Samajh Ke Teri Yaad Se Rishta Nahi Rakha,
Main Khud Tanha Raha Magar Dil Ko Tanha Nahi Rakha,
Tumhari Chahton Ke Phool To Mehfooz Rakhe Hain,
Tumhari Nafraton Ki Peer Ko Zinda Nahi Rakha.
ये मत समझ कि तेरी याद से रिश्ता नहीं रखा,
मैं खुद तन्हा रहा मगर दिल को तन्हा नहीं रखा,
तुम्हारी चाहतों के फूल तो महफूज़ रखे हैं,
तुम्हारी नफरतों की पीर को ज़िंदा नहीं रखा।

Hum To Bane Hi The Tabaah Hone Ke Liye,
Tera Chhod Ke Jana To Mahaz Bahana Ban Gaya.
हम तो बने ही थे तबाह होने के लिए,
तेरा छोड़ जाना तो महज़ बहाना बन गया।

 

 

Cheap SMM Service